हमारे बारे में -

के. वी. की उत्पत्तिं

  • क.व्. सैंज कुल्लू एक प्रोजेक्ट विद्यालय है यह ०१ - ०४ - २००२ में शुरू किया गया, यह न.ह. प.क. लिमिटेड के अद्धीन है

विकास के महत्वपूर्ण मील का पत्थरं

  • १. विद्यालय की स्थाफ्ना (२००२) से लेकर अभी तक 100% रिजल्ट्स २. विद्यालय एक बहुत ही हार्ड स्टेशन है इस के बावजूद यहाँ के विद्यार्थी राष्ट्रीय लेवल पर गेम्स में तथा चम्पिओन्शिप्स में अवल रहें हैं

वर्ष वार प्रमुख वर्गों और अनुभाग में क्रमिक विस्तार

  • २००२-०३ क्लास ८ २००३-०४ क्लास ९ २००४-०५ क्लास १० २००६-०७ क्लास ११ साइंस चालू की गयी २००७-०८ क्लास १२ साइंस २००९-१० क्लास ११ कॉमर्स चालू की गयी २०१०-११ क्लास १२ कॉमर्स

खेल - कूद सुविधाओं सहित अन्य उपलब्ध सुविधाएं

  • वॉली बाल , खो खो , बॉक्सिंग , बैडमिंटन, चेस, टेबल टेनिस

के. वी. के उद्घाटन की तारीख

  • 01-04-2002

उच्चतम कक्षा और हर कक्षा मे अनुभागों की संख्या को मंजूरी

  • क्लास १ से १ ० तक सिंगल सेक्शन क्लास ११ से १२ तक सिंगल सेक्शन कॉमर्स और साइंस

क्षेत्र (सिविल / रक्षा परियोजना / आई. एच. एल.)

  • प्रोजेक्ट

जिला

  • कुल्लू

राज्य / संघ राज्य क्षेत्र

  • हिमाचल परदेश

VISION & MISSION

  • केन्द्रीय विद्यालयों के प्रमुख चार मिशन इस प्रकार है - 1. केन्द्रीय सरकार के स्थानांतरणीय कर्मचारियों जिनमें रक्षा तथा अर्धसैनिक बलों के कर्मी भी शामिल हैं , के बच्चों को शिक्षा के सामान्य कार्यक्रम के तहत शिक्षा प्रदान कर उनकी शैक्षिक अवश्यकताओं को पूरा करना । 2. .विद्यालयी शिक्षा के क्षेत्र में श्रेष्ठता और गति निर्धारित करना । 3. केन्द्रीय माध्यमिक षिक्षा बोर्ड (सी.बी.एस.सी.) राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद् (एन.सी.ई.आर.टी.) इत्यादि जैसे अन्य निकायों के सहयोग से शिक्षा के क्षेत्र में नए-नए प्रयोग तथा नवाचार को सम्मिलित करना । 4. बच्चों में राष्ट्रीय एकता और ’भारतीयता’ की भावना का विकास करना ।